लालू : जनसेवक का जनक, जनता का मददगार, नीतीश : कुर्सी का सनक, जनादेश का व्यापार

बिहार में पोस्टर वार: राजद ने लालू व नीतीश की तुलना वाले कई पोस्टर जारी किये

राज्य में राजनीतिक दलों के बीच चल रहा पोस्टरवार थमने का नाम नहीं ले रहा है। जदयू की ओर से 15 साल बनाम 15 साल का सरकार के कामकाज का तुलनात्मक पोस्टर का राजद ने एक बार फिर से जवाब दिया है। इस बार पार्टी ने लालू प्रसाद औश्र नीतीश कुमार के व्यक्तित्व की तुलना करते हुए आधा दर्जन से अधिक पोस्टर जारी किया है। 

राजद ने अपने पोस्टर में एक तरफ लालू प्रसाद की तस्वीर लगाकर उन्हें ‘बिहार का बल’ बताया है तो उसके ठीक सामने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तस्वीर लगाकर उनके बारे में ‘बिहार का छल’ टिप्पणी की है। दूसरे पोस्टर में लालू प्रसाद की तस्वीर पर ‘जनता ही बल’ लिखा है तो सीएम नीतीश कुमार की तस्वीर पर ‘बिहार से छल’ लिखा है। तीसरे पोस्टर में राजद प्रमुख को ‘जनता का मददगार’ बताया गया है तो मुख्यमंत्री के सामने ‘जनादेश का व्यापार’ लिखा गया है। 

इसी प्रकार लालू को ‘जनसेवा के जनक‘ तो सीएम को ‘कुर्सी की सनक’ लिखकर दिखाया गया है। अन्य पोस्टरों में भी ‘जनता का सुख’ बनाम ‘कुर्सी की भूख’, ‘जनता का सारथी’ बनाम ‘कुर्सी का लालची’, ‘एकता अखंडता का मंत्र’ बनाम ‘स्वार्थ, छल षणयंत्र’ और ‘गरीब का बल’ बनाम ‘गरीब से छल’ जैसे नारों के दोनों पार्टी प्रमुखों की तुलना की गई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *