4 जनवरी से खुलेंगे बिहार के सभी स्कूल, बस सुविधा देने पर लगा रोक, नोटिस जारी

काेराेना संकट के कारण बंद चल रहे शिक्षण संस्थानों काे सरकार ने 4 जनवरी से खाेलने का निर्णय लिया है। करीब 9 महीने के बाद कॉलेज खुलेंगे और क्लासरूम में पढ़ाई होगी। इसके लिए शहर के कॉलेजों में नई गाइडलाइन बनाई जा रही हैं। महिला कॉलेजों में भी कोरोना से बचाव के लिए सारे नियम लागू हाेंगे। पटना वीमेंस कॉलेज में फिलहाल 14 जनवरी तक ऑनलाइन क्लास ही चलेगी। तबतक अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं खत्म हो जाएंगी। उसके बाद ही काॅलेज प्रशासन नई गाइडलाइन जारी करेगा। प्राचार्या डॉ. सिस्टर मारिया रश्मि ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए सारे नियम लागू होंगे। कमरों की क्षमता के अनुसार छात्राओं को बैठाया जाएगा। उनकी सीट के बीच में 6-6 फीट की दूरी रहेगी। छात्राओं को मास्क और सेनेटाइजर रखना जरूरी हाेगा। उधर, मगध महिला कॉलेज, अरविंद महिला कॉलेज, जेडी वीमेंस और गंगा देवी महिला कॉलेज में पहले थर्ड ईयर की छात्राअाें काे बुलाया जाएगा। उसके बाद सेकेंड और फर्स्ट ईयर की छात्राएं अाएंगी। थर्ड ईयर की परीक्षाएं नजदीक हैं तो पहले उसका सिलेबस पूरा करने पर जाेर रहेगा।

संस्थान खुलते ही शुरू होगी कैबिनेट चुनाव की तैयारी
पटना वीमेंस काॅलेज में संस्थान खुलते ही कैबिनेट चुनाव की तैयारी शुरू होगी। इस बार कई नियमों में बदलाव होने की संभावना है। हालांकि चुनाव को जनवरी तक करा लेना है। मगध महिला कॉलेज मे भी जनवरी में चुनावी प्रक्रिया शुरू होगी। स्टूडेंट कैबिनेट चुनाव नहीं टाले जाएंगे।

घट जाएगा कक्षाओं का समय
क्लासेज का समय पहले के अनुसार घटेगा। ऑनलाइन क्लास भी जारी रहेगी। इसके अलावा अब बच्चों काे बैग में पेन-पेंसिल के साथ-साथ सेनेटाइजर भी रखना हाेगा। हालांकि स्कूलों ने भी सेनेटाइजर का स्टाॅक किया है। अगर बच्चे भूल भी जाएं तो उन्हें स्कूल में सेनेटाइजर मिलेगा।

महिला कॉलेजों में 6 फीट की दूरी पर बैठेंगी छात्राएं
काेराेना संकट के कारण बंद चल रहे शिक्षण संस्थान 4 जनवरी से खुल जाएंगे। स्कूलाें की घंटी बजेगी और बच्चे क्लासरूम में पढ़ते नजर अाएंगे। इसकी तैयारी में स्कूल जुटे हैं, नियम भी बदले जाएंगे। कोरोना संक्रमण के खतरे काे देखते हुए अधिकतर स्कूल अपनी बस सुविधा शुरू नहीं करेंगे। इसके अलावा बच्चों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट से आने के लिए बहुत हद तक मना किया जाएगा। ऐसे में जो बच्चे स्कूल आने-जाने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करते हैं। उनकी मुश्किलें बढ़ेंगी। एेसे तमाम मुद्दों पर स्कूल प्रशासन विचार कर रहा है। सोमवार को स्कूलों में शिक्षकों और स्टाफ की मीटिंग होगी। इसके बाद स्कूल अपनी गाइडलाइन के बारे में अभिभावकों काे बताएंगे। स्कूल की वेबसाइट पर भी जानकारी रहेगी। संत जेवियर्स हाईस्कूल, लोयाेला हाईस्कूल, डॉन बॉस्को समेत कई स्कूलों में बैठक बुलाई गई है।


सीनियर की रिविजन क्लास चलेगी : स्कूल खुलते ही सीनियर विद्यार्थियाें के लिए रिविजन क्लास चलेंगी, क्योंकि उनकी बोर्ड परीक्षाएं नजदीक आ गई हैं। 10वीं-12वीं की प्रैक्टिकल क्लासेज चलेंगी, ताकि बच्चे परीक्षाओं के लिए तैयार हो सकें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *