जिस सोफा पर बैठकर अधिकारियों को आदेश देते थे तेजप्रताप, वह चोरी हो गया

PATNA- लालू के लाल और बिहार सरकार के पर्यावरण मंत्री तेजप्रताप यादव अपने सरकारी कार्यालय में जिस सोफा पर बैठकर लोगों से मिलते थे। अधिकारियों के साथ मीटिंग करते थे वह सोफ अचानक रातों रात गायब हो गया है। एक तरह से कहा जाए तो किसी ने चुरा लिया है। ताजा अपडेट के अनुसार कुछ महिनों पहले तेजप्रताप यादव ने अपने खर्च पर लाखों रुपए का सोफा खरीदा था। इसे उनके सरकारी कार्यालय में रखा गया था। जानकारों का कहना है की पर्यावरण विभाग का सरकारी आफिस उनके मंत्री बनने से पहले तक बस नार्मल हुआ करता था। इसी बीच बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने पर तेजप्रताप को इस विभाग का जिम्मा सौंपा गया तो उन्होंने अपने खर्चे पर कार्यालय को मोडिफाइ कराया। सारे फर्नीचर को बदला गया। टेबल—कुर्सी चेंज किया गया।

पटना पुलिस ने इस मामले में बताया है ​की तेजप्रताप यादव की ओर से शिकायत दर्ज करवाया गय है की उनके सरकारी आफिस से सोफा गयाब हो गया है। हमलोग मामले की जांच कर रहे हैं। हालांकि यह मामला हैरान करने वाला है। सरकारी आफिस से सामन गायब होना असंभव है। प्रथम नजर में लगता है की कोई अपना जानने वाला इस सोफा को लेकर चला गयाा है। सोफा को बहुत जल्द बरामद कर लिया जाएगा।

बताते चलें कि पिछले साल 27 मई 2022 को तेज प्रताप के घर में चोरी हुई थी। तब उनके सरकारी आवास से आईफोन चुरा लिया गया था। सचिवालय थाना में इस बाबत मामला भी दर्ज करवाया गया था। अब देखना दिलचस्प होगा कि तेज प्रताप यादव का फर्नीचर कब तक बरामद होता है। होता भी है या नहीं होता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *