सरकारी स्कूल में बच्चों से ढुलवाया जा रहा राशन, बैग से किताबें निकलवाईं, फिर चावल भरकर ढुलवाए

PATNA: बच्चों के स्कूल बैग का भार कितना बढ़ते जा रहा है ना? फिर भी किसी तरह बच्चे उस भार को सहन कर लेते है, क्योंकि ये उनके भविष्य का सवाल है। लेकिन, इन दिनों हिमाचल में चंबा जिले के सरकारी स्कूल में बच्चों के बैग से किताबें निकलवाकर राशन ढुलवाया जा रहा है। जी हां, भरमौर क्षेत्र के एक प्राइमरी स्कूल में टीचरों ने राशन ढुलवाने के लिए बच्चों के बैग से किताबें निकलवाईं और उसमें चावल भरकर ढुलवाया जा रहा है।

मामला 24 जून का बताया जा रहा है। सुबह जब बच्चे स्कूल गए तो टीचरों ने बच्चों से मिड डे मील का राशन ढुलवाने को कहा। बैग से किताबें खाली करवाईं और उसमें चावल भर दिए। बच्चे प्राइमरी स्कूल के थे। नन्हें बच्चों ने टीचरों के आदेश का पालन किया और बैग में रखे चावल को उठाना शुरू कर दिया। गांव के लोगों ने इसकी जानकारी स्कूल प्रबंधक समिति को दी। इसके बाद बच्चों को काम करने से रोका गया।

इस मामले की जानकारी जैसे ही स्कूल प्रबंधन समिति को मिली तो अधिकारियों ने इसका कड़ा विरोध किया और अध्यापकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। दूसरी ओर, भरमौर प्रशासन मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। भरमौर प्रशासन का कहना है कि अगर ऐसा हुआ तो टीचरों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। चाइल्ड लाइन ने इस मामले में जांच की और अध्यापकों को माफी मांगनी पड़ी। एडीएम भरमौर पीपी सिंह ने बताया कि इस मामले के बारे में सूचना मिली है। जांच के आदेश जारी कर दिए गए हैं। अगर है तो शिक्षकों पर कार्रवाई होगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *