बिहार के स्कूलों में मुसलमानों के लिए शुक्रवार को होती है छुट्टी, हिंदू बोले- हमें मंगल को चाहिए

स्कूलों में जुमे को छुट्‌टी; भाजपा बोली-हिंदू मंगल को मांगे तो…सीमांचल के किशनगंज, अररिया, कटिहार और पूर्णिया जिलों के सरकारी स्कूलों में रविवार की जगह शुक्रवार को छुट्टी मामले पर शिक्षा विभाग ने जिला शिक्षा पदाधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है। अगले सप्ताह शिक्षा विभाग संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों के साथ बैठक कर सुनिश्चित कराएगा कि निर्धारित दिन ही साप्ताहिक छुट्टी हो। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह कहा कि इस तरह की शिकायत मिली है। सीमांचल जुड़े जिलों के डीईओ से इस मामले पर रिपोर्ट मांगी गई है।

अगले सप्ताह संबंधित सभी जिलों के जिलाधिकारियों के साथ इस मामले पर बैठक होगी। बैठक में ही सभी बिंदुओं पर चर्चा कर समाधान होगा। उधर, शुक्रवार को स्कूल बंद रहने के मामले पर पर्यावरण मंत्री नीरज कुमार बबलू ने कहा कि हिन्दू तो मंगलवार या गुरुवार को तो छुट्टी नहीं मांगते हैं। पूरे देश में सरकारी स्कूलों में रविवार को छुट्टी होती है। इसलिए रविवार को ही छुट्टी होनी चाहिए। हिन्दू धर्म के लोग मंगलवार या गुरुवार को छुट्टी मांगने लगे तो यह ठीक नहीं है। धर्म के नाम पर अलग-अलग दिन स्कूलों में छुट्टी बिल्कुल ही सही नहीं है। स्कूलों में शुक्रवार को छुट्टी कराने के लिए पीएफआई जैसे संगठन ही जिम्मेदार हैं।

एनसीपीसीआर ने मांगी बिहार के 37 सरकारी स्कूलाें में छुट्‌टी पर रिपोर्ट
नई दिल्ली। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने बुधवार को अल्पसंख्यक बहुल जिलों के 37 सरकारी स्कूलों में रविवार की जगह शुक्रवार को छुट्‌टी होने पर रिपोर्ट मांगी है। एनसीपीसीआर की चेयरपर्सन प्रियांक कानूनगो ने बिहार के मुख्य सचिव आमिर सुबहानी को पत्र लिखकर पूरे मामले पर बिहार सरकार से 10 दिन में जानकारी मांगी है कि आखिर किसके आदेश से रविवार की जगह शुक्रवार को छुट्‌टी का निर्णय लागू किया गया है।

सीमांचल के 217 स्कूलों में रविवार की जगह शुक्रवार को साप्ताहिक छुट्टी हो रही है। किशनगंज के पोठिया, बहादुरगंज, ठाकुरगंज और कोचाधामन, पूर्णियां के वायसी और डगरूआ, अररिया के जोकीहाट और कटिहार के विभिन्न इलाकों में शुक्रवार को साप्ताहिक अवकाश दिया जा रहा है। शुक्रवार को अवकाश का कारण इन इलाकों में मुस्लिम आबादी अधिक होना है। इधर सीमांचल के एक जिला के डीईओ के अनुसार अल्पसंख्यक बहुल इलाकों में ज्यादातर स्कूल शुक्रवार को बंद और रविवार को खुले रहते हैं। ये स्कूल पिछले 50 साल से शुक्रवार को ही बंद रहते हैं। यहां अधिकांश छात्र अल्पसंख्यक समुदाय के हैं। रविवार की जगह शुक्रवार को स्कूलों में साप्ताहिक छुट्टी का मामला झारखंड में आ चुका है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.