अभी-अभी : रामविलास पासवान मेरे पिता समान थे, कल मेरे घर में चूल्हा तक नहीं जला, वट वृक्ष चला गया

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सहित कई बड़े नेता पटना एयरपोर्ट पहले से ही पहुंच गए थे। जहां स्टेट हैंगर में चिराग पासवान, सीएम नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय, अश्विनी कुमार चौबे, बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी और प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव, विधानसभा अध्यक्ष विजय चौधरी, अवधेष नारायण चौधरी, मनोज झा आदि ने दिवंगत नेता को भावभीनी श्रदांजलि दी।

लोक जनशक्ति पार्टी के संस्थापक रामविलास पासवान के निधन के बाद लालू परिवार में दुःख का माहौल है. रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर पटना एयरपोर्ट लाया गया है. उन्हें कई बड़े नेता श्रद्धांजलि देने पहुंचे हैं. नेता प्रतिपक्ष और लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव भी उन्हें श्रद्धांजलि देने पटना एयरपोर्ट पहुंचे हैं. उन्होंने रामविलास जी की याद में काफी कुछ कहा है.

तेजस्वी यादव ने दुःख जताते हुए कहा कि रामविलास पासवान जी उनके अभिभावक थे. उनके जाने का काफी दुःख है. कल राबड़ी आवास में चूल्हा भी नहीं जला. तेजस्वी ने आगे कहा कि भाई चिराग पासवान को इस वक्त सबसे ज्यादा जरूरत उनके पिता की थी. रामविलास पासवान जी ने दलितों और निचले तबके के लोगों के लिए एक बड़ी लड़ाई लड़ी.

रामविलास जी के जाने से बिहार को एक बहुत बड़ी क्षति पहुंची है. तेजस्वी ने कहा कि बिहार की राजनीति में वे एक वटवृक्ष के रूप में थे. लालू प्रसाद यादव के साथ उनका क्या रिश्ता था, यह किसी से छिपा नहीं है. दोनों कोई शुरू से संघर्ष के साथी थें. 10 साल पहले 2010 के विधानसभा में पहली बार रामविलास जी के साथ मंच साझा करने का मौका मिला था. वे दिन भी हमको याद है. रामविलास जी के साथ मेरा व्यक्तिगत रिश्ता एक बेटे और शिष्य के जैसा था.

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का पार्थिव शरीर वायुसेना के विमान से आज दिल्ली से पटना एयरपोर्ट पहुंचा. जिसके बाद अंतिम दर्शन के लिए लोगों की भीड़ इकठ्ठा हो गई. पटना एयरपोर्ट पर कई नेता मौजूद हैं. रामविलास पासवान के पार्थिव शरीर को पटना एयरपोर्ट से सीधे विधानसभा ले जाया जायेगा. जहां बिहार के तमाम बड़े नेता और सामाजिक कार्यकर्ता उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं. सीएम नीतीश, डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी, भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी, लोजपा सांसद वीणा देवी, जाप संरक्षक पप्पू यादव श्रद्धांजलि देने पटना एयरपोर्ट पहुंचे हैं.

जन अधिकार पार्टी के संरक्षक पप्पू यादव ने कहा कि वे मंडल मसीहा थे. उन्होंने स्वर्गीय पासवान को सादगी से भरा, सदा मुस्कुराने वाला और सबका दिल जीतने वाला इंसान बताया. उन्होंने कहा कि वे जाति-धर्म की संकीर्णता में कभी नहीं आए. वे सबसे प्यार करते थे, सब उनसे प्यार करते थे. इसमें दल का कोई बंधन नहीं था. खासकर कैबिनेट मिनिस्टर के रूप में उन्होंने बहुत ही बेहतर काम किया.

पप्पू यादव ने कहा कि हमारी इच्छा थी कि वे एक बार बिहार का नेतृत्व करें लेकिन ऐसा नहीं हो सका. उन्होंने कहा कि राम विलास जी जिस मंत्रालय में रहे उसे आम आदमी के लिए सुलभ बनाया. कुर्सी की पहचान उनसे थी, उनकी पहचान कुर्सी से नहीं थी. जाप अध्यक्ष ने उन्हें सदी का महानायक बताया.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.