तेजस्वी ने अपने विधायकों के साथ किया राजभवन मार्च, मंत्री राम सूरत को हटाने की मांग

Desk: मंत्री रामसूरत राय के मसले पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार विधानसभा से राजभवन के लिए मार्च से शुरू कर दिया है. विपक्षी विधायकों के साथ तेजस्वी यादव विधानसभा से निकल चुके हैं और वह राजभवन जा रहे हैं.

मंत्री रामसूरत राय के कैंपस में बने स्कूल से शराब बरामदगी के बावजूद उनके ऊपर कार्यवाही नहीं होने को लेकर तेजस्वी लगातार नीतीश सरकार पर आक्रामक है. तेजस्वी ने आज बिहार विधानसभा में भी इस मामले को पुरजोर तरीके से उठाया था. तेजस्वी ने सरकार पर आरोप लगाया है कि वह मंत्री रामसूरत राय को बचाने में जुटी हुई है.

आपको बता दें कि मंत्री रामसूरत राय के मुद्दे पर घिरी नीतीश सरकार की आज विधानसभा में जबरदस्त फजीहत हुई है. विधानसभा में आज मंत्री रामसूरत राय को लेकर आरजेडी आक्रामक दिखी. नेता प्रतिपक्ष यादव ने सुबह ही इस बात के संकेत दे दिए थे कि मंत्री रामसूरत राय के मसले पर उनकी पार्टी के तेवर आज कड़े रहेंगे. सदन में आज पहले प्रश्न उत्तर काल में आरजेडी ने वॉकआउट किया और इसके पहले इस मसले पर चर्चा के लिए कार्य स्थगन प्रस्ताव दिया था. विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कार्य स्थगन प्रस्ताव जैसे ही अस्वीकार किया, तेजस्वी यादव सदन में उठ खड़े हुए. आज तेजस्वी यादव जिद पर अड़ गए कि मंत्री रामसूरत राय के मसले पर सदन में चर्चा हो.

आज सदन में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव जब शराब बरामदगी मामले में रामसूरत राय को लेकर टिप्पणी करने लगे तो डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद भी जवाब में उठ खड़े हुए. बीजेपी के विधायक भी अपनी सीट पर उठ खड़े हुए और आरजेडी और बीजेपी विधायकों के बीच सदन में जबरदस्त टकराव देखने को मिला. रामसूरत राय के बचाव में बीजेपी सदन में पूरी तरह से उतर गई. हंगामा इतना बढ़ा कि विधानसभा की कार्यवाही भोजन अवकाश के बाद तक के लिए स्थगित करनी पड़ी.

सदन की कार्यवाही स्थगित होने के बावजूद आरजेडी के विधायक नहीं माने. विधानसभा अध्यक्ष के चेंबर के बाहर से आरजेडी विधायक धरने पर बैठ गए और अब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव विपक्षी विधायकों के साथ राजभवन के लिए निकल चुके हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.