रेल यात्रियों को ₹3 में मिलेगा पानी और ₹20 में खाना, सिर्फ गरीब लोगों को मिलेगा इस योजना का लाभ

ट्रेनों के जनरल कोच में तीन रुपये में मिलेगा पानी और बीस रुपये में खाना : रेलवे द्वारा समय-समय पर रेल यात्रियों के हितों को ध्यान में रखकर फैसला लिया जाता रहा है. रेलवे का मानना है कि गरीब रेल यात्रियों पर कम से कम आर्थिक बोझ डाला जाए. यही कारण है कि कभी वरिष्ठ नागरिकों को ट्रेन टिकट में छूट सन दिया गया तो कभी स्कूल कॉलेज में पढ़ने वाले छात्रों को वापस घर जाने के लिए टिकट में रियायत दी गई. ताजा अपडेट के अनुसार अब खबर आ रही है कि रेलवे जनरल डिब्बे में सफर करने वाली रेल यात्रियों के लिए एक खास योजना बना रही है. इस योजना के तहत जनरल डिब्बे में सफर करने वाले लोगों को ₹3 में पीने को पानी और ₹20 में खाने को भोजन दिया जाएगा.

ट्रेनों के जनरल कोच में सफर करने वाले लाखों यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। रेलवे ने जनरल डिब्बों के यात्रियों की परेशानी को देखते हुए उनके लिए तीन रुपये में पीने का पानी और बीस रुपये में भोजन की व्यवस्था करने का फैसला किया है।

आईआरसीटीसी को इस व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गई है। आईआरसीटीसी को निर्देश दिए गए हैं कि प्रत्येक स्टेशन के प्लेटफार्म पर जहां ट्रेन के जनरल डिब्बे रुकते हैं, वहां स्टॉल की व्यवस्था की जाए।

ट्रेन के स्लीपर व एसी कोच में सफर करने वाले यात्रियों को सभी तरह की सुविधाएं मिलती हैं। उन्हें चलती ट्रेन में खाना, चाय, पानी व नाश्ते की सुविधा मिलती है। कुछ ट्रेनों में रेलवे की तरफ से भी यह सुविधा दी जाती है, लेकिन ट्रेनों के जनरल डिब्बे में सफर करने वाले हजारों यात्री इन सुविधाओं से महरूम रहते हैं। जनरल डिब्बे में भीड़ व गर्मी के चलते यात्रियों को सफर में खासी परेशानी होती है। पीने के पानी व खाने के लिए भी यात्रियों को धक्के खाने पड़ते हैं। जनरल डिब्बों में प्रतिदिन हजारों यात्री सफर करते हैं। यात्रियों को होने वाली परेशानी को देखते हुए रेलवे ने बड़ा फैसला किया है। इस फैसले में ट्रेनों के जनरल डिब्बों में भी यात्रियों को पीने के पानी और खाने की सुविधा देने का प्रावधान किया जा रहा है।

रेल मंत्रालय ने उत्तर-पश्चिम रेलवे को यात्रियों के लिए खानपान सेवाओं के प्रावधान की गुणवत्ता और सेवाओं में सुधार के साथ-साथ यात्रियों के लिए किफायती दरों पर भोजन की पर्याप्त सुविधा करने के निर्देश दिए हैं। आईआरसीटीसी को इस व्यवस्था की जिम्मेदारी दी गई है। आईआरसीटीसी को निर्देश दिए गए हैं कि प्रत्येक स्टेशन के प्लेटफार्म पर जहां ट्रेन के जनरल डिब्बे रुकते हैं, वहां स्टॉल की व्यवस्था की जाए। इन स्टॉल पर 20 रुपये में यात्री को भोजन मिलेगा। इसमें 7 पूरी (175 ग्राम), सूखी आलू सब्जी (150 ग्राम) और अचार (12 ग्राम) अच्छी गुणवत्ता वाले कागज के बॉक्स में बंद मिलेगा। इसके अलावा 50 रुपये में स्थानीय व्यंजन, वस्तुओं, स्वाद का नाश्ता, कॉम्बो भोजन (वजन-350 ग्राम) कैसरोल में मिलेगा। तीन रुपये में पैकेज्ड पेयजल का सीलबंद गिलास मिलेगा। छह माह के अंदर इस व्यवस्था को लागू करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

उत्तर-पश्चिम रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी शशिकिरण ने बताया कि रेल मंत्रालय से बुधवार को एक पत्र के माध्यम से यह जानकारी मिली है। यह पूरी व्यवस्था आईआरसीटीसी द्वारा की जाएगी। इस दिशा में काम शुरू हो चुका है। रेलवे के उच्च अधिकारियों द्वारा जरूरी निर्देश दिए गए हैं। सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही स्टेशन पर किफायती दरों में लोगों को भोजन मिलेगा। साथ ही वेंडर चलती ट्रेन में भी जनरल डिब्बे में यात्रियों को भोजन पीने के पानी सहित अन्य खाद्य सामग्री किफायती दरों पर उपलब्ध कराएंगे।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WHATTSUP, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *