टिकट कटने से नाराज पूर्व विधायक ने पीएम मोदी और नड्डा को चिट्ठी लिख छोड़ी पार्टी

बिहार विधानसभा चुनाव-2020 में टिकट कटने को लेकर हर पार्टी में नेताओं की नाराजगी सामने आ रही है। इसी कड़ी में भाजपा के पूर्व विधायक किशोर कुमार मुन्‍ना ने सहरसा सीट से टिकट कटने को लेकर पीएम नरेन्‍द्र मोदी, भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जे.पी.नड्डा और प्रदेश अध्‍यक्ष संजय जायसवाल को चिट्ठी लिख पार्टी छोड़ने का एलान कर दिया है।

भाजपा ने सहरसा से आलोक रंजन झा को  उम्‍मीदवार बनाया है। पूर्व विधायक कौशल किशोर मुन्‍ना ने प्रदेश अध्‍यक्ष के नाम की चिट्ठी भाजपा प्रदेश मुख्यालय जाकर सह संगठन महामंत्री शिवनाराण महतो को सौंपी। उन्‍होंने  आरोप लगाया कि उनकी जाति के चलते टिकट काटा गया। पार्टी के बड़े नेता फोन नहीं उठाते। किसी और को टिकट देने से पहले उन्‍हें भरोसे में लेने की कोशिश तक नहीं की गई। उन्होंने कहा कि वह छात्र जीवन से आरएसएस से जुड़े रहे। पार्टी के लिए दिन रात मेहनत की। लेकिन अब उन्‍हें अपमान महसूस हो रहा है।

उन्‍होंने कहा कि पार्टी कार्यालय में दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा को प्रणाम कर मैंने अपना नाता खत्‍म कर लिया है। पूर्व विधायक ने कहा कि वह  2015 में भी अपने गृहक्षेत्र में चुनाव लड़ना चाहते थे लेकिन अंतिम समय में बलि का बकरा बनाकर उन्‍हें चुनाव लड़ने के लिए सुपौल भेज दिया गया। उन्‍होंने कहा कि बहुत कम समय मिलने के बावजूद सुपौल में पार्टी को 2014 के मुकाबले काफी सम्‍मानजनक स्थिति में ला दिया था। लोकसभा चुनाव के मुताबिक तीन गुना वोट मिले थे। इसके बावजूद इस बार उनकी उपेक्षा की गई।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *