मंगलसूत्र-सिंदूर लगाने पर भड़का देवबंद, तो कट्टरपंथियों को नुसरत ने दिया करारा जवाब

तृणमूल कांग्रेस सांसद नुसरत जहां द्वारा मंगलसूत्र पहनने और सिंदू लगाने का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। नुसरत ने हाल ही में संसद पहुंचकर सांसद पद की शपथ ली थी। इस दौरान वे मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र पहनकर संसद पहुंची थी। इसको लेकर देवबंद के धर्मगुरुओं द्वारा नुसरत जहां के खिलाफ फतवा जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि माथे का सिंदूर, मंगलसूत्र गैर-इस्लामिक है। साथ ही उन्होंने कहा कि मुस्लिम लड़कियों को सिर्फ मुस्लिम लड़कों से ही निकाह करना चाहिए।

उत्तर प्रदेश के देवबंद स्थित जामिया-शेख-अल-हिंद मदरसे के मुख्य मौलवी मुफ्ती असद काजमी ने कहा कि वह शादी को मान्यता नहीं देते हैं। काजमी ने कहा, ‘बतौर एक अभिनेत्री वह सारे कार्य ऐसे करती रही हैं, जो इस्लामिक कानून की नजर में सही नहीं हैं लेकिन ये ऐक्टर्स वही करते हैं, जो वह करना चाहते हैं। ऐसे में इन मुद्दों पर बात करने का कोई मतलब नहीं है। अब उन्होंने एक गैर-मुस्लिम से शादी की और माथे पर सिंदूर लगाकर और गले में मंगलसूत्र पहनकर सदन पहुंचीं। एक मुस्लिम को सिर्फ मुस्लिम से ही शादी करनी चाहिए। हम ऐसी शादियों को मान्यता नहीं देते हैं।’

मुस्लिम कट्टरपंथियों की इस टिप्पणी पर नुसरत जहां ने जोरदार जवाब दिया है। नुसरत ने कहा कि इस बात से किसी को मतलब नहीं होना चाहिए कि लोगों को कैसे कपड़े पहनने चाहिए। उन्होंने कहा, ‘बंगाली बोलना और माथे पर सिंदूर लगाना मेरी पसंद है। मेरा दिल जो कहता है, मैं वही करूंगी। मुझे इस बात की कोई फिक्र नहीं है कि धर्म के नाम पर कौन क्या बोलता है। आखिरकार यह मेरी जिंदगी है और मुझे कैसे जीना है, इसका मेरे पास पूरा अधिकार है। नए जमाने की भारतीय महिला को कैसे सशक्त होकर आगे कदम बढ़ाना है, इस बात की मुझे जानकारी है।’

नुसरत को मिला साध्वी प्राची का साथ

उधर इस मामले में भाजपा नेता साध्वी प्राची ने नुसरत का बचाव करते हुए कहा कि अगल मुस्लिम महिला हिंदू से शादी करती है और बिंदी, बिछुवा, मंगलसूत्र और सिंदूर लगाती है तो मुस्लिम मौलवी उसे हराम बताते हैं। मुझे उनकी अक्ल पर तरस आता है, क्योंकि जब मुस्लिम युवक लव जिहाद के नाम पर हिंदू बेटियों को फंसाते हैं और उन्हें बुर्का पहनने के लिए कहते हैं तो वो हराम नहीं है। उनके लिए ये ठीक है।’

बता दें कि नुसरत ने 19 जून को कारोबारी निखिल जैन से तुर्की में शादी की थी। वह पश्चिम बंगाल के बशीरहाट से सांसद हैं। वह 3.5 लाख वोटों से जीतीं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *