पटना को जाम से छूटकारा, दीघा-एम्स एलिवेटेड राेड की दोनों लेन पर चलेंगी गाड़ियां, आदेश जारी

दीघा-एम्स एलिवेटेड की दोनों लेन इसी महीने चालू हो जाएंगी। बस एक हफ्ते की देरी है। पूर्वी लेन की फिनिशिंग का काम 24 घंटे किया जा रहा है। ट्रायल के तौर पर अभी पश्चिमी लेन से खाली ट्रकों के साथ बड़ी-छोटी गाड़ियां पार हो रही हैं। बिहार राज्य पथ विकास निगम ने मुख्यमंत्री सचिवालय से उद्घाटन का समय मांगा है। निर्माण एजेंसी गैमन के परियोजना प्रबंधक शशि रंजन ने कहा कि पटना-दिल्ली मुख्य रेलवे लाइन पर अवस्थित 106 मीटर लंबे खगौल आरओबी का निर्माण चुनौतीपूर्ण था, जिसे पूरा कर लिया गया है। फिनिशिंग का काम चल रहा है।

गांधी मैदान-दानापुर रोड से अनीसाबाद-दानापुर स्टेशन रोड (खगौल आरओबी) तक नहर के ऊपर 8.45 किलोमीटर फोरलेन एलिवेटेड हिस्सा और खगौल आरओबी से पटना एम्स तक 2.3 किलोमीटर फोरलेन सड़क पर गाड़ियां दौड़ रही हैं। गांधी मैदान-दानापुर रोड से जेपी रेल-सड़क पुल तक 1.5 किलोमीटर 4/6 लेन एप्रोच सड़क का निर्माण भी पूरा हो गया है जिसके मार्फत उत्तर बिहार से आने वाली गाड़ियां एलिवेटेड प्रोजेक्ट पर चढ़ रही हैं। इस प्रोजेक्ट की कुल लंबाई 12.27 किलोमीटर है, जिसके निर्माण पर 1289 करोड़ खर्च हुए हैं।

इधर, आर ब्लॉक-दीघा राेड 15 जनवरी तक हो जाएगा चालू
पटना | राज्य सरकार ने बीएसआरडीसी को आर ब्लॉक-दीघा सिक्स लेन हाईवे का निर्माण कार्य 15 जनवरी तक पूरा कराने का आदेश दिया है। सरकार के आदेश के आलोक में बीएसआरडीसी ने एजेंसी को मकर संक्रांति से पहले निर्माण कार्य पूरा करने का टास्क सौंपा है। यानी, खरमास बाद उद्घाटन के साथ ही आम जनता के लिए हाईवे समर्पित हो जाएगा। इसका निर्माण कार्य 90 फीसदी पूरा हो गया है। बेली रोड फ्लार्इ ओवर का निर्माण के साथ हार्ईवे का रंग-रोगन का कार्य पूरा करना है। इस राेड पर ओवरस्पीड में गाड़ी चलाने वालों पर कार्रवाई करना आसान होगा। 7 जगहों पर अत्याधुनिक सीसीटीवी कैमरा लगाया जा रहा है। इसके साथ ही हाईवे डिजिटल स्क्रीन बोर्ड लगाया जा रहा है। इससे पथ निर्माण विभाग के सड़क सुरक्षा से संबंधित स्लोगन के साथ गाड़ी की रफ्तार और जाम आदि के बारे में जानकारी मिलेगी।

पटना-दानापुर रेलवे लाइन से दक्षिणी हिस्से में सीधी पहुंच
दीघा सेतु की तरफ से बिहटा की तरफ जाने वाली गाड़ियां पटना शहर की जाम नहीं झेलेंगी। अशोक राजपथ की तरफ से भी इस एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट पर चढ़ने का विकल्प है। इस रोड प्रोजेक्ट से गाड़ियां सीधे पटना-दानापुर रेलवे लाइन पार कर शहर के दक्षिणी हिस्से में पहुंच जाएंगी। इसका कार्यारंभ नवंबर 2013 में हुआ था। इसमें एम्स से पटना नहर के मुहाने तक 2.3 किलोमीटर फोरलेन सड़क है। दानापुर-फुलवारीशरीफ रोड से दीघा-पटना सड़क तक 8.45 किलोमीटर फोरलेन एलिवेटेड है। दीघा-पटना

इस राेड के चालू हाेने पर पटना जंक्शन, बेली रोड, बोरिंग रोड, अल्पना मार्केट, अशोक राज पथ में शामिल दुजरा, राजापुर पुल, कुर्जी आदि इलाके शामिल हैं। वर्तमान समय में उत्तर बिहार की ओर जाने वाले वाहनों के साथ पश्चिमी पटना के मुहल्लों में रहने वाले लोग जाम से परेशान रहते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *