ट्रंप करवा सकते हैं अमेरिका पर परमाणू हमला, राष्ट्रपति पद की मोह में किसी भी हद तक जा सकते हैं

अमेरिकी संसद भवन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) के हजारों समर्थक द्वारा हिंसा फैलाने के बाद तनाव (US Capitol Violence) लगातार बरकरार है. अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी (Speaker Nancy Pelosi ) को अब परमाणु हमले का डर सता रहा है. उन्हें लग रहा है कि कहीं राष्ट्रपति पद से विदाई से पहले ट्रंप परमाणु हमला न कर दे. नैंसी ने ट्रंप को सैन्य कार्रवाई शुरू करने या परमाणु हमले करने से रोकने को लेकर शुक्रवार को ‘ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ’ के चेयरमैन से बात की. बता दें कि बुधवार को ट्रंप समर्थकों की पुलिस के साथ झडप भी हुई थी. इस घटना में चार लोगों की मौत भी हो गई.

पेलोसी ने प्रतिनिधि सभा के डेमोक्रेटिक सदस्यों को को एक चिट्ठी लिखी है. इसमें कहा गया है कि उन्होंने जनरल मार्क से बात की है. उन्होंने लिखा है कि उन्हें इस बात का डर है कि अस्थिर राष्ट्रपति बदले की भावना से परमाणु मिसाइल दागने के लिए ‘लॉन्च कोड’ तक पहुंच सकते हैं. लिहाजा परमाणु हमले का आदेश देने से रोकने के लिए मौजूद एहतियातों पर चर्चा करने के लिए जनरल मार्क के साथ उन्होंने बातचीत की है.

ट्रंप को पद से हटाया जाए
राष्ट्रपति ट्रंप को उनके पद से हटाने की अपनी मांग को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि इस अस्थिर राष्ट्रपति की स्थिति अब इससे अधिक खतरनाक क्या हो सकती है, और हमें वो सब कुछ करना चाहिए जो हम अमेरिकी लोगों और अपने देश और हमारे लोकतंत्र पर मनमाने हमले को रोकने के लिए कर सकते हैं. उन्होंने कहा, ‘संसद में रिपब्लिकन को ट्रम्प को तुंरत अपना पद छोड़ने के लिए दबाव बनाने की जरूरत है. अगर राष्ट्रपति खुद से पद नहीं छोड़ते हैं, तो कांग्रेस आगे कार्रवाई करेगी.’
ये भी पढ़ें:- डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट हमेशा के लिए सस्पेंड, कंपनी बोली- वो हिंसा भड़का सकते हैं

20 जनवरी को बाइडन लेंगे शपथ
ट्रम्प 20 जनवरी को पद छोड़ने वाले हैं, जब डेमोक्रेट जो बाइडन राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे. पेलोसी राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही पर विचार करने के लिए शुक्रवार को हाउस डेमोक्रेटिक कॉकस (समूह) के साथ बैठक कर रही हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *