तेजस्वी बने बिहार के मुख्यमंत्री, 53 मिनट तक चलता रहा RJD का ड्रामा, लालू के लाल ने खुद को CM बनाया

PATNA-तेजस्वी 53 मिनट तक स्वघोषित मुख्यमंत्री और अवध बिहारी चौधरी बने विस अध्यक्ष, स्वयंभू सीएम बोले-अध्यक्ष महोदय, वादा याद है…हम 20 लाख सरकारी नौकरी देने की घोषणा करते हैं : यह एकजुट विपक्ष की विधानसभा थी। एकतरफा। ऐसी पूर्ण बहुमत वाली, जिसमें विपक्ष का एक भी सदस्य नहीं था। इस सदन के नेता, यानी ‘मुख्यमंत्री’ तेजस्वी यादव रहे। 53 मिनट के ‘स्वयंभू मुख्यमंत्री’ ने ‘सदन’ में ऐलान किया-’हम 10 नहीं, बल्कि 20 लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी देंगे।’ सदन ने अग्निपथ योजना के खिलाफ सर्वसम्मत प्रस्ताव पारित किया; राष्ट्रपति से इस योजना को रद्द करने का आग्रह किया गया। तेजस्वी ने सदन में कहा-’लोकतंत्र के इस मंदिर में आम लोगों की समस्याओं पर चर्चा और उसके समाधान की बात होनी चाहिए। सभी माननीय सदस्य लोगों के मसलों को उठाएं। हम उसे पूरा करेंगे। … कुछ लोग वादा करके भूल जाते हैं। कुछ लोगों के लिए वादा जुमला होता है।

विधानसभा में राजद का ड्रामा
अध्यक्ष महोदय, हमने चुनाव में जो वादा किया था, वह हमें पूरी तरह याद है। हम अभी कैबिनेट की बैठक बुलाकर 10 नहीं, बल्कि 20 लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी देने की घोषणा करते हैं। इस ‘विधानसभा’ के ‘अध्यक्ष’,राजद के अवध बिहारी चौधरी थे। वे सबसे अलग कुर्सी पर बैठे थे। यह ‘सदन’,विधानसभा की लॉबी में चला। चाय-नाश्ता भी चलता रहा। ‘अध्यक्ष’ ने राजद के सबसे बड़ा दल होने की घोषणा की। एआईएमआईएम से आए 4 विधायकों का स्वागत किया गया।

(नोट :- भारी हंगामा के चलते विधानसभा की पहली पाली मात्र 8 मिनट चली। दूसरी पाली में भी विपक्ष ने 14 मिनट तक हंगामा किया। स्पीकर विजय कुमार सिन्हा व उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी के आग्रह के बाद भी विपक्षी सदस्य शांत न हुए। उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने प्रधानमंत्री के खिलाफ नारेबाजी पर आपत्ति जताई। विपक्षी सदस्य 53 मिनट तक सदन से बाहर रहे। और इसी दौरान यह समानांतर ‘सदन’ चला।)

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.