पटना में एक साथ बनेगा 12 मंजिला तीन 5 स्टार होटल, 1075 कमरे होंगे, 1500 लोगों को मिलेगी नौकरी

पटना में एक साथ बनेंगे तीन फाइव स्टार होटल, 1500 लोगों को सीधे मिलेगी नौकरी : राजधानी में एक साथ तीन फाइव स्टार यानी पांच सितारा सुविधाओं वाले होटल बनाए जाएंगे। वीरचंद पटेल पथ स्थित होटल पाटलिपुत्र अशोक व सुल्तान पैलेस और गांधी मैदान के समीप बांकीपुर बस पड़ाव की जमीन पर नए सिरे से अत्याधुनिक फाइव स्टार होटल बनाया जाएगा। राज्य सरकार 45 साल की लीज पर निजी निवेशकों के जरिए इनका निर्माण कराएगी। निर्माण कार्य के लिए तीन साल का समय दिया जाएगा। तीनों होटल में फाइव स्टार की सुविधा वाले करीब 1075 कमरे होंगे। अभी बिहार में एक भी फाइव स्टार होटल नहीं है। नए फाइव स्टार होटल बनने से पर्यटकों को अत्याधुनिक सुविधाएं मिल सकेंगी।

शुक्रवार को कैबिनेट की स्वीकृति के बाद पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद और प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल ने विस्तार से प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी दी। मंत्री ने बताया कि होटल निर्माण के लिए खुली निविदा निकाली जाएगी। इसमें होटल इंडस्ट्री के बड़े नाम आइटीसी, ताज, रेडिसन, हयात, लीला के प्रस्ताव पर भी विचार होगा। जिनका आफर सबसे अच्छा होगा, उन्हें होटल निर्माण की स्वीकृति दी जाएगी। उम्मीद है कि 2026 तक पटना को अपना पहला फाइव स्टार होटल मिल जाएगा। नए होटल खुलने से करीब 1500 लोगों को सीधे तौर पर रोजगार मिलेगा।

DEMO PHOTO

प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल ने बताया कि 45 वर्ष की लीज की अवधि पूरी होते ही होटल चालू हालत में स्वत: पर्यटन विभाग को ट्रांसफर हो जाएंगे। इसके बाद सरकार इसके संचालन को लेकर उचित निर्णय लेगी। लीज तथा निविदा की शर्तों के निर्धारण के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय समिति का गठन किया जाएगा। इसमें राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग, वित्त विभाग, उद्योग विभाग, नगर विकास एवं आवास विभाग और पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव या अपर मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी सदस्य होंगे।

फाइव स्टार होटलों में होगी यह सुविधा
लग्जरी रूम, वीआइपी सूइट, प्रेसिडेंशियल सूइट, कांफ्रेंस हाल, बैंक्वेट, फाइन डाइन रेस्तरां, स्विमिंग पूल, काफी शाप, जूस बार, ब्यूटी पार्लर, जिम, स्पा, गैलरी, बिजनेस सेंटर, पार्किंग आदि।

22 मंजिला होगा बांकीपुर में बनने वाला फाइव स्टार होटल
गांधी मैदान के पास बांकीपुर बस पड़ाव की जमीन पर बनने वाला फाइव स्टार होटल राजधानी का सबसे ऊंचा भवन होगा। इस जमीन की सरकारी कीमत 105 करोड़ रुपये आंकी गई है। इस होटल का फ्लोर एरिया रेशियो यानी एफआरए-6 स्वीकृत किया गया है। प्रधान सचिव के अनुसार, यहां कम से कम 22 मंजिला भवन बनाने की योजना है। करीब 3.5 एकड़ जमीन पर बनने वाले होटल में 500 कमरे होंगे। इसमें 160-160 स्टैंडर्ड और डीलक्स रूम, 72 फैमिली डीलक्स रूम, पांच ब्राइडल सूइट, 10 एग्जीक्यूटिव सूइट, चार प्रेसिडेंशियल सूइट, चार रेसिडेंस सूइट, पांच बैंक्वेट हाल, पांच रेस्तरां आदि शामिल होंगे। गांधी मैदान के आसपास बड़ी संख्या में सरकारी कार्यालय व महत्वपूर्ण इमारतों के कारण यहां पांच सितारा होटल की जरूरत महसूस की जा रही थी।

सुल्तान पैलेस को तोड़कर बनेगा नया 12 मंजिला होटल

वीरचंद पटेल पथ पर बने करीब 100 साल पुराने सुल्तान पैलेस को तोड़कर नया 12 मंजिला फाइव स्टार होटल बनाया जाएगा। इस जमीन की सरकारी कीमत 91.20 करोड़ रुपये आंकी गई है। पहले यहां पुराने भवन में ही हेरिटेज होटल खोलने की योजना थी मगर जीर्ण-शीर्ण इमारत के कारण अब यहां नए सिरे से अत्याधुनिक भवन बनाया जाएगा। करीब 4.8 एकड़ जमीन पर बनने वाले होटल में करीब 400 कमरे होंगे। इसमें 300 डबल बेडरूम, 40 सिंगल बेडरूम, 20 वीआइपी सूइट, चार प्रेसिडेंशियल सूइट, दो-दो कांफ्रेंस हाल, बैंक्वेट व रेस्तरां आदि का निर्माण होगा। प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल ने बताया कि अभी यहां बिहार राज्य पथ परिवहन निगम का कार्यालय चल रहा है, जिसे फुलवारीशरीफ शिफ्ट करने का काम शुरू हो गया है। उम्मीद है कि अगले एक-दो माह में इसे पर्यटन विभाग को सुपुर्द कर दिया जाएगा। सुल्तान पैलेस का निर्माण 1926-28 ईस्वी के बीच किया गया था। भूकंप या खराब मौसम के कारण इसके धाराशायी होने की आशंका के कारण नया निर्माण किए जाने की योजना बनाई गई है।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और WhattsupYOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.