बेटे की मौत, सदमे में मां ने तोड़ा दम, एक साथ 2 अर्थी, सड़क हादसे में 3 भाइयों की हो चुकी है मौ’त

PATNA- बेटे की हुई मौत, सदमे में मां ने तोड़ा दम: एक साथ उठी दो अर्थी, सड़क हादसे में 3 भाइयों की पहले ही हो चुकी है मौत, मां-बेटे की अर्थी एक साथ निकाली गई। मां-बेटे की अर्थी एक साथ निकाली गई। परिवार के 3 और की हादसे में हो चुकी है मौत : बिहार के बांका जिले में मंगलवार को मां-बेटे की मौत का मामला चर्चा में बना रहा। दरअसल, सड़क हादसे में छोटे बेटे की मौत की सूचना जैसे ही उसकी 90 वर्ष की मां को मिली, सदमे में उसने भी दम तोड़ दिया। इस घटना के बाद घर से एक साथ दो अर्थी निकली और अंतिम संस्कार किया गया। इससे पहले बुजुर्ग मां के तीन और बेटे की सड़क हादसे में मौत हो चुकी है।

मंदिर से लौटते वक्त हुआ हादसा
मृतकों की पहचान विजयनगर निवासी स्वर्गीय किशोरी साह के पुत्र अनुज साह (50) और अनुज की मां चमेली देवी (90) के रूप में की गई। अनुज प्रत्येक दिन की तरह विजय नगर के हरियासी मोड़ पर स्थित बजरंगबली मंदिर में पूजा करने गया था। वापस घर लौटते वक्त किसी वाहन ने उसे जोरदार टक्कर मार दी। अनुज इस हादसे में बुरी तरह से जख्मी हो गया। स्थानीय लोगों की मदद से उसे अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

इधर, बेटे की मौत की सूचना जैसे ही मां चमेली देवी को मिली, उसे ऐसा सदमा लगा कि उसने भी दम तोड़ दिया। घटना की सूचना जिसे भी मिली, वो उनके घर पर पहुंचा। सभी की आंखें नम हो गई। इसके बाद मां-बेटे की अर्थी एक साथ निकाली गई।

हरियासी मोड़ के पास इस परिवार के अनुज साह समेत चार लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें अनुज के भाई राजीव साह, विश्वनाथ साह और शिवनंदन साह शामिल हैं। अनुज विवाहित नहीं था। उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं थी।

डेली बिहार न्यूज फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें….DAILY BIHAR  आप हमे फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और Whattsup, YOUTUBE पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.